Fastblitz 24

Search
Close this search box.

Follow Us:

जौनपुर: सरायख्वाजा का एतिहासिक भादोछठ मेला रविवार को

भीड़ बढ़ने पर पूर्वांचल विश्वविद्यालय का कोरीडीहा से रहेगा रूट डायवर्जन

जौनपुर। सरायख्वाजा का ऐतिहासिक भादोछठ मुख्य मेला 24 सितंबर रविवार को होगा। जिसके लिए सूरजकुंड तालाब की साफ-सफाई ग्राम प्रधान रैना सिंह ने कराया है और सड़क के दोनों पटरी को जेसीबी मशीन से 2 किलोमीटर के अंतराल तक साफ सफाई कराया। सूरजकुंड तालाब में नहाने के लिए बैरिंग केटिंग की गई है। आस्था का प्रतीक सूरजकुंड तालाब में मान्यता है कि नहाने से चर्म रोग दूर होते हैं। जिसमे नहाने के लिए दूसरे जनपदों व प्रदेशो से लोग आते हैं और सूरजकुंड में आस्था की डुबकी लगाते हैं।
बता दें कि भादोछठ के इतिहासिक मेला कृषि यंत्रों के लिए भी जाना जाता है, जो किसान मेला भी कहा जाता है। हालांकि पहले यह मेला सप्ताह भर पूर्व से शुरू हो जाता था, लेकिन सड़क पर अतिक्रमण आबादी बढ़ने के चलते मेला अब रविवार को सिमट कर रह गया है, जबकि कृषि यंत्रों का आगे दो तीन दिन तक मेला चलता रहता है।

थानाध्यक्ष का कहना है कि मेले के लिए पुलिस व्यवस्था की गई है, जो मेले में व्यवस्थाओं की निगरानी रखेगी। अगर भीड़ बढ़ी तो पूर्वांचल विश्वविद्यालय करंजाकला मल्हनी मार्ग होते हुए कोरीडीहा के लिए डायवर्जन कर दिया जाएगा। इसकी भी तैयारी की गई है। बैरियर लगाया जा रहा है।

fastblitz24
Author: fastblitz24

Spread the love