Fastblitz 24

Search
Close this search box.

Follow Us:

नक्सलियों ने आईईडी विस्फोट से ट्रैक्टर उड़ाया, खलासी की मौत

सोनुवा से हाथीबुरु कैंप जा रहे चार ट्रैक्टरों में सबसे आगे वाला बना निशाना । 

जमशेदपुर। कोल्हान के जंगल में नक्सलियों ने मंगलवार को आईईडी विस्फोट कर सीआरपीएफ का सामान ले जा रहे ट्रैक्टर को उड़ा दिया। पश्चिमी सिंहभूम के गोईलकेरा के कुईड़ा के पास हुई इस घटना में टैक्ट्रर के खलासी की मौत हो गई, जबकि चालक का चाईबासा के सदर अस्पताल में इलाज चल रहा है।

ट्रैक्टर सोनुवा से गोईलकेरा के हाथीबुरू सीआरपीएफ कैंप जा रहा था। घटना दोपहर बारह बजे करीब की है। पुलिस और सेना के जवान छानबीन में जुट गये हैं।

आईडी ब्लास्ट में इस साल 11 की मौत, 7 ख्मी 

कोल्हान जंगल में सुरक्षाबलों को निशाना बनाने के लिए नक्सलियों द्वारा लगायी गई लैंडमाइंस में इस वर्ष अबतक 11 लोगों की मौत हो चुकी है, जबकि सात घायल हुए हैं। जनवरी से पूरे कोल्हान में जांच अभियान चल रहा है, जबकि टोंटो और गोईलकेरा में मई से जांच अभियान को तेज किया गया। नक्सलियों द्वारा लैंडमाइंस की चपेट में आकर मरने वालों में टोंटो थाना क्षेत्र के रेगड़ाहातु गांव निवासी चेतन कोड़ा (45) और जोना कोड़ा (35), गोईलकेरा थाना क्षेत्र के छोटाकुड़ाई निवासी सिंगराय पूर्ति, मेरालगड़ा गांव निवासी हरीश चन्द्र गोप, ईचाहातु गांव निवासी कृष्णा पूर्ति, मुफस्सिल थाना क्षेत्र निवासी गुरुवारी तामसोय शामिल हैं। वहीं घायलों में जेमा बहांदा, नंदी पूति, चंद्रो कुई, सेलाय कुंटिया,लोबो गोप सहित दो बालक शामिल हैं। इनमें अलावा एसआई और दो पुलिस के जवान भी शहीद हुए हैं।

जानकारी के मुताबिक, सोनुवा से सीआरपीएफ कैंप के लिए चार ट्रैक्टर सामग्री लेकर जा रहे थे। सबसे आगे चल रहा ट्रैक्टर कुईड़ा के पास नक्सलियों द्वारा लगाये गये आईईडी की चपेट में आ गया। इस विस्फोट में ट्रैक्टर क्षतिग्रस्त हो गया और चालक पकलू बोदरा (30) और खलासी लोबो गोप (32) बुरी तरह घायल हो गये। खलासी के दोनो पैरों तथा चालक के दाहिने हाथ में चोट लगी। दोनों को पहले सीआरपीएफ के जवान सोनुवा सामुदायिक स्वास्थ्यभवन ले गये ,जहां से उन्हें चाईबासा सदर अस्पताल रेफर कर दिया गया। सदर अस्पताल में इलाज के दौरान खलासी की मौत हो गई।

fastblitz24
Author: fastblitz24

Spread the love