Fastblitz 24

Search
Close this search box.

Follow Us:

देश के पहले हाइड्रोजन इंजन प्लांट स्थापना का रास्ता साफ

झारखंड सरकार और टाटा के बीच सीएम की उपस्थिति में एमओयू

रांची। जमशेदपुर में हाइड्रोजन इंजन से जुड़ा देश का पहला उद्योग स्थापित करने के लिए टाटा समूह के संयुक्त उपक्रम व झारखंड सरकार के बीच मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन की मौजूदगी में शुक्रवार को प्रोजेक्ट भवन में एमओयू किया गया। यह एमओयू टीसीपीएल ग्रीन एनर्जी सॉल्यूशन प्राइवेट लिमिटेड (टाटा मोटर्स लिमिटेड और टाटा कमिंस का संयुक्त उपक्रम) के साथ हाइड्रोजन इंजन निर्माण से संबंधित परियोजना के लिए किया गया है। परियोजना पर 354.28 करोड़ रुपये का निवेश प्रस्तावित है।

एक हजार को रोजगार इस पहल के बाद देश में जल्द हाइड्रोजन ईंधन से भी वाहन चलेंगे। इस इकाई के स्थापित होने से करीब एक हजार लोगों को प्रत्यक्ष और अप्रत्यक्ष रूप से रोजगार मिलेगा। जमशेदपुर में लगने वाले इस प्लांट में हाइड्रोजन आंतरिक दहन इंजन, फ्यूल-एग्नोस्टिक इंजन, एडवांस केमिस्ट्री बैटरी, एच 2 फ्यूल सेल और एच 2 फ्यूल डिलीवरी सिस्टम के तहत इंजन बनेंगे। इसकी प्रस्तावित क्षमता 4000+ हाइड्रोजन आईसी इंजन और 10,000+ बैट्री सिस्टम है।

एमओयू पर उद्योग विभाग के सचिव जितेंद्र कुमार सिंह और भारत में कमिंस के मुख्य वित्तीय अधिकारी अजय पाटिल ने टाटा मोटर्स के कार्यकारी निदेशक गिरीश वाघ और कमिंस इंडिया के नितिन जिराफे की उपस्थिति में हस्ताक्षर किए।

हाइड्रोजन इंजन क्या है?

हाइड्रोजन का मतलब हरित ईंधन है, यह बिजली का उपयोग करके उत्पादित किया जाता है, और उस बिजली को उत्पन्न करने में जीवाश्म ईंधन को जलाना शामिल हो सकता है।
इंजन गैसोलीन के रूप में हाइड्रोजन का उपयोग करते हैं। यही है, वे इसे एक विस्फोट (गतिज ऊर्जा और गर्मी) बनाने के लिए एक दहन कक्ष में जलाते हैं। इस कारण से, पारंपरिक गैसोलीन इंजनों को एलपीजी या सीएनजी के अलावा हाइड्रोजन जलाने के लिए अनुकूलित किया जा सकता है।

इस इंजन का संचालन गैसोलीन इंजन के समान ही है। हाइड्रोजन का उपयोग ईंधन के रूप में और ऑक्सीजन को ऑक्सीडेंट के रूप में किया जाता है। रासायनिक प्रतिक्रिया एक चिंगारी से शुरू होती है और एक स्पार्क प्लग एक चिंगारी पैदा कर सकता है। हाइड्रोजन में कार्बन परमाणु नहीं होते हैं, तो प्रतिक्रिया यह है कि दो हाइड्रोजन अणु एक ऑक्सीजन अणु के साथ मिलकर ऊर्जा और पानी छोड़ते हैं।

fastblitz24
Author: fastblitz24

Spread the love