Fastblitz 24

Search
Close this search box.

Follow Us:

चाईबासा : लगातार चौथे दिन भी मिला शव, गोइलकेरा के बिला चौक के पास पत्थर से सिर कूचकर हत्या

नक्सली प्रभावित क्षेत्र पश्चिम सिंहभूम के गोइलकेरा थाना क्षेत्र के बिला गांव चौक से बुरुदुईया जाने वाले रास्ते पर एक बाहर फिर लाश मिलने से सनसनी फैल गई। अनुमान लगाया जा रहा है कि हत्यारे ने मंगलवार की रात पत्थर से कूच कर हत्या कर दी . यह लगातार चौथे दिन हत्या की गई है. बुधवार की सुबह स्थानीय ग्रामीणों ने शव को देखा. इसके बाद पुलिस को सूचना दी गयी. अभी तक इस व्यक्ति की पहचान नहीं हो पायी है. नक्सली पर्चा बरामद होने को लेकर अभी तक एसपी अशुतोष शेखर ने स्पष्ट नहीं किया है. उन्होंने कहा कि फिलहाल जांच चल रही है. नक्सली पर्चा बरामद नहीं हुआ है. हत्या के स्थान पर नक्सलियों से जुड़ा कोई पर्चा नहीं मिला है. शव की पहचान करने की कोशिश की जा रही है। 

मुखबिरी के आरोप में लगातार हो रही हत्या 

पश्चिमी सिंहभूम जिला के कई क्षेत्रों में लगातार माओवादियों द्वारा मुखबिरी के नाम पर ग्रामीणों की हत्या की जा रही है. हत्या से एक बार फिर से बुरुदुईया जाने वाले रास्ते में शव मिलने से ग्रामीणों में दहशत व्याप्त है. शव का सिर पत्थर से पूरी तरह कुचल दिया गया है. इससे शव की पहचान नहीं हो सकी है।

पुलिस मुखबिरी के शक में ग्रामीणों की हत्या किये जाने की आशंका जतायी जा रही है. इसके पूर्व घटना टोंटो थाना क्षेत्र के घोर नक्सल प्रभावित रेंगड़ाहातु घ में घटित हुई ,जहां सोमवार की शाम को 5 से 6 की संख्या में हथियारबंद भाकपा माओवादी नक्सली गांव मे पहुंचे और 52 वर्षीय सुपाय मुटकन को पकड़कर घर के पास स्थित पेड़ में बांधकर पीटा। 

इसके बाद नक्सलियों ने सुपाय मुटकन की धारदार हथियार से गला रेतकर हत्या कर दी. इस दौरान नक्सलियों ने सुपाय मुटकन के बड़े भाई जमादार मुटकन की भी पिटाई की है और वह जख्मी हो गया है।  भाकपा माओवादी के नक्सलियों ने दो दिन पहले शनिवार को गोईलकेरा थानाक्षेत्र के सुदूर क्षेत्र में स्थित लोवाबेड़ा गांव से एक वृद्ध ग्रामीण रांदो सुरीन को पुलिस मुखबिरी का आरोप लगाकर गितिलपी मुख्य सड़क में लाकर गला रेतकर हत्या कर दी थी. मौके पर नक्सलियों ने तीन पोस्टर छोड़कर रांदो सुरीन पर पुलिस मुखबिर होने का आरोप लगाया था. तीन दिनों में दो लोगों की नक्सलियों द्वारा हत्या किये जाने से क्षेत्र में सनसनी फैल गयी है. क्षेत्र के गांवों में भय का माहौल कायम है। 

fastblitz24
Author: fastblitz24

Spread the love