Fastblitz 24

Search
Close this search box.

Follow Us:

लद्दाख में शहीद जवानों का राजकीय सम्मान के साथ अंतिम संस्कार

शिमला/संगरूर। 

लद्दाख के लेह जिले में एक दुर्घटना में मारे गये सैनिक विजय कुमार गौतम के पार्थिव शरीर का सोमवार को यहां उनके पैतृक गांव में पूरे राजकीय और सैन्य सम्मान के साथ अंतिम संस्कार कर दिया गया। दक्षिणी लद्दाख के न्योमा में कियारी के पास एक सैन्य वाहन 19 अगस्त को फिसलकर गहरी खाई में गिर गया था, जिससे गौतम सहित नौ सैनिकों की मौत हो गई थी, जबकि एक अन्य गंभीर रूप से घायल हो गया था।

गौतम के पार्थिव शरीर को हवाई मार्ग से शिमला के अन्नानडेल ग्राउंड लाया गया, वहां से अंतिम संस्कार के लिये शव को उनके पैतृक गांव दिमनी ले जाया गया। गौतम के भतीजे ने मुखाग्नि दी। अंतिम संस्कार के दौरान सैकड़ों स्थानीय लोग मौजूद थे । गौतम 2004 में सेना में शामिल हुए। शिमला (ग्रामीण) विधानसभा क्षेत्र के विधायक एवं हिमाचल प्रदेश के लोक निर्माण मंत्री विक्रमादित्य सिंह भी अंतिम संस्कार में शामिल हुये।

हादसे में शहीद हुए पंजाब के फरीदकोट जिले के नायब सूबेदार रमेश लाल का अंतिम संस्कार सोमवार को गांव सिरसड़ी में राजकीय सम्मान के साथ कर दिया गया। शहीद रमेश को उनके दोनों बेटों और भाई ने मुखाग्नि दी। उन्हें अंतिम विदाई देने के लिए पूरा गांव श्मशानघाट में उमड़ा। जैसे ही शहीद का पार्थिव शरीर घर में पहुंचा, पत्नी गीता देवी बेहोश हो गई।

‘द कश्मीर वाला’ न्यूज़ वेबसाइट ब्लॉक
केंद्र सरकार ने श्रीनगर के स्वतंत्र मीडिया संस्थान ‘द कश्मीर वाला’ की वेबसाइट को ब्लॉक कर दिया है। द वायर के लिए जहांगीर अली की रिपोर्ट बताती है कि इस संस्थान के सोशल मीडिया एकाउंट पर भी रोक लगी है। ‘द कश्मीर वाला’ के संस्थापक-संपादक फहद शाह आतंकवाद के आरोप में 18 महीने से जम्मू जेल में बंद हैं, जबकि इसके ट्रेनी पत्रकार सज्जाद गुल भी जनवरी 2022 से जन सुरक्षा अधिनियम के तहत उत्तर प्रदेश में जेल में बंद हैं. संस्थान ने एक बयान में कहा है कि सरकार की इस कार्रवाई के अलावा उन्हें श्रीनगर में अपने मकान मालिक से दफ़्तर ख़ाली करने का नोटिस भी मिला है. बयान में यह भी बताया गया है कि उन्हें वेबसाइट ब्लॉक होने की वजह नहीं मालूम है और न ही उन्हें इस बाबत कोई नोटिस या आधिकारिक आदेश मिला।

fastblitz24
Author: fastblitz24

Spread the love