Fastblitz 24

Search
Close this search box.

Follow Us:

स्वतंत्रता दिवस समारोहों पर सियासत की छाया – कहीं अगले वर्ष भी ध्वजारोहण का दावा तो कहीं मुफ्त बिजली का लालीपाप

अगले वर्ष फिर तिरंगा फहराऊंगा: मोदी

नई दिल्ली। मंगलवार को 77वें स्वतंत्रता दिवस समारोहों पर आसन्न आम चुनाव की स्पष्ट छाया दिखी।
देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 77वें स्वतंत्रता दिवस पर लाल किले की प्राचीर से देश को संबोधित किया। इस दौरान उन्होंने अपनी सरकार की तमाम उपलब्धियां गिनाईं और भविष्य की योजनाओं पर अपने विचार रखे। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मंगलवार को कहा कि 2047 में देश जब स्वतंत्रता के 100 साल का जश्न मनाए तो हमारे देश का तिरंगा दुनिया में विकसित देश की पहचान के साथ लहराए। इसके लिए अगले पांच वर्षों को उन्होंने सबसे बड़ा स्वर्णिम बताया। साथ ही दावा किया कि लाल किले पर अगले वर्ष 2024 में भी वे तिरंगा फहराएंगे। आत्मविश्वास से लबरेज प्रधानमंत्री के इस देवी का सीधा मतलब होता है कि वह आगामी आम चुनाव जीतकर फिर प्रधानमंत्री बनने जा रहे हैं।
वही दिल्ली के मुख्यमंत्री और विपक्ष के प्रमुख नेता एवं प्रधानमंत्री पद के स्वयंभू उम्मीदवार अरविंद केजरीवाल ने भी स्वतंत्रता दिवस से समारोह मंच का राजनीतिक इस्तेमाल करने से गुरेज नहीं किया।
मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने छत्रसाल स्टेडियम में मंगलवार को आयोजित 77वें स्वतंत्रता दिवस समारोह में शहीदों को याद करते हुए देश को विश्वगुरु बनाने का खाका पेश किया। सीएम ने कहा कि देशवासियों के लिए शिक्षा, स्वास्थ्य और बिजली का सुरक्षा चक्र बनाने से देश विश्वगुरु बनेगा। दिल्ली की तरह पूरे देश में मुफ्त बिजली दी जा सकती है। उन्होंने बिना नाम लिए केंद्र सरकार पर हमला बोलते हुए कहा कि सिर्फ बातें करने से भारत विश्वगुरु नहीं बनेगा।
बतौर दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने दिल्ली वासियों के लिए भविष्य की योजनाओं को रखकर उन्हें शुभकामना देने के बजाय अपने उद्बोधन में पूरे देश की चर्चा ऐसी की जैसे वह दिल्ली प्रदेश के मुख्यमंत्री न होकर देश के प्रधानमंत्री हैं।

fastblitz24
Author: fastblitz24

Spread the love