Fastblitz 24

Search
Close this search box.

Follow Us:

पार्थिव शिवार्जुन से समस्त पापों का होता है नाश

शिव की उपासना श्रावण मास में विशेष फलदायी

जौनपुर। रविवार को नगर में पंडित बांके महाराज ज्योतिष संस्थान द्वारा 31031 पार्थिव शिवलिंग पूजन व श्रीमहारुद्राभिषेक का दिव्य एवं भव्य आयोजन रासमंडल स्थित श्री बड़े हनुमान जी मंदिर
परिसर में आचार्य (डॉ) रजनीकांत द्विवेदी की अगवाई में संपन्न हुआ। कहा जाता है कि कलयुग में सबसे पहले कुष्मांड ऋषि के पुत्र मंडप ऋषि ने प्रभु के आदेश पर जगत कल्याण के लिए पार्थिव शिवलिंग बनाकर शिवार्चन किया। पार्थिव शिवलिंग पूजन के पृथक-पृथक कामनाओं के लिए पृथक-पृथक संख्या निर्धारित है। जैसे धनार्थी के लिए 500, पुत्रार्थी के लिए 1500, दयार्थी के लिए 300 भय मुक्ति के लिए 200, राज्य भय से मुक्ति के लिए 500 व समस्त कामनाओं की पूर्ति के लिए 1000 पार्थिव शिवलिंग का पूजन रुद्राक्ष धारण कर ललाट पर भस्म लगाकर करने का विधान है। पूजन के प्रारंभ में सर्वप्रथम पार्थिव शिवलिंग की प्रतिष्ठा कर यजमानों ने विधिवत शिवलिंग का पूजन किया तत्पश्चात आचार्य (डॉ.) रजनीकांत जी के निर्देशन में काशी, अयोध्या, प्रयाग और आजमगढ़ से पधारे वैदिक विद्वानों के द्वारा एकादशी विधि से महा रुद्राभिषेक यजमानों ने किया। महारुद्राभिषेक के पश्चात पुनः पार्थिव शिवलिंग का विधि विधान से पूजन कर महाआरती का कार्यक्रम संपन्न हुआ।

कार्यक्रम में प्रमुख यजमान के रूप में श्री श्याम जी त्रिपाठी, श्री शशांक सिंह, डॉ.एसपी त्रिपाठी, श्री नीरज उपाध्याय, श्री जगन्नाथ पाठक, श्री हरदेव सिंह (हन्नू), श्री रोहन सिंह, श्री रत्नेश सिंह, श्री अविनाश दुबे, श्री रमेश मिश्रा, श्रीमती संगीता राय,श्रीमती सुशीला सिंह,श्रीमती माधुरी गुप्ता, श्री शनि जायसवाल, श्री भास्कर पाठक, श्री दिनमणि त्रिपाठी, , श्री सतीश वाधवा, श्री विनोद गुप्ता इत्यादि उपस्थित रहे।
कार्यक्रम को सफल बनाने में प्रमुख रूप से पंडित निशाकांत द्विवेदी, पंडित रौनक शुक्ला, डॉ गंगाधर शुक्ला, पंडित अखिलेश पंडित पांडेय, पंडित प्रभाकर मिश्रा, पंडित शुभम मिश्रा, पंडित आनंद तिवारी, पंडित प्रमोद मिश्रा, राधिका तिवारी सहित शिवभक्त और श्रद्धालुओं की भूमिका प्रशंसनीय रही ।

fastblitz24
Author: fastblitz24

Spread the love