Fastblitz 24

Search
Close this search box.

Follow Us:

फिर साजिशों का खेल, गैंग सदस्यों की बदलेगी जेल 

प्रयागराज। उमेश पाल हत्याकांड के बाद माफिया अतीक के गैंग आईएस-227 के मेंबरों पर ताबड़तोड़ कार्रवाई हुई। एक-एक कर उसके गुर्गे नैनी जेल पहुंच रहे हैं। अतीक-अशरफ की हत्या के बाद भी साजिशों का दौर जारी है। नैनी सेंट्रल जेल में इन दिनों अतीक के परिवार वाले, शूटर, गैंग मेंबर, साजिशकर्ता, फाइनेंसर सब हैं। यहां तक की अतीक के दो वकील भी इसी जेल में हैं। अब पुलिस और एसटीएफ के आला अफसरों तक शिकायत पहुंची है कि जेल से फिर नई साजिशों पर अमल किया जा सकता है। सीखचों के पीछे से साजिशों का तानाबाना बुन कोई खेल न कर दिया जाए, इसे लेकर गोपनीय जानकारी जुटाई जा रही है। साथ ही रिपोर्ट तैयार हो रही है कि अतीक से जुड़े कई गैंग मेंबरों को नैनी सेंट्रल जेल से हटाकर दूसरी जेलों में शिफ्ट कर दिया जाए।

माफिया अतीक का दूसरे नंबर का बेटा अली अहमद नैनी सेंट्रल जेल में है। अली की वजह से ही सुरक्षा के मद्देनजर अतीक-अशरफ हत्याकांड के तीनों आरोपितों अरुण कुमार मौर्य, सनी सिंह और लवलेश तिवारी को प्रतापगढ़ जेल शिफ्ट किया गया था। तीन महीनों से लगातार माफिया के मददगार जेल पहुंच रहे हैं।

fastblitz24
Author: fastblitz24

Spread the love