Fastblitz 24

Search
Close this search box.

Follow Us:

सूबे की 8 बड़ी नदियां लाल निशान के पार, बाढ़ का खतरा बढ़ा

बिहार: 8 बड़ी नदियां लाल निशान के पार, बाढ़ का खतरा बढ़ा
पश्चिम चंपारण के ठकराहा में तटबंध के पास फैला गंडक का पानी।
● गंगा, कोसी, गंडक, बागमती, घाघरा, कमला बलान, ललबकिया, परमान नदी खतरे के निशान से ऊपर

पटना। नेपाल में लगातार हो रही बारिश के बाद प्रदेश की नदियों का जलस्तर तेजी से बढ़ने लगा है। गंगा समेत आठ बड़ी नदियां गुरुवार को खतरे के निशान को पार कर गईं। इनका जलस्तर लगातार बढ़ता ही जा रहा है। गंगा के अलावा कोसी, गंडक, बागमती, घाघरा, कमला बलान, ललबकिया, परमान नदी का जलस्तर विभिन्न स्थानों पर लाल निशान से ऊपर पहुंच गया। इसके बाद बड़े इलाके में बाढ़ का खतरा उत्पन्न हो गया है। नदियों के बढ़ते जलस्तर के बीच जल संसाधन विभाग ने पूरे प्रदेश में अलर्ट जारी कर दिया है।

उधर कोसी और गंडक बराज पर इस साल का रिकार्ड जलस्राव हो रहा है। कोसी के वीरपुर बराज पर बीती रात 2.11 लाख क्यूसेक पानी था। वहीं, गंडक के वाल्मीकिनगर बराज पर बुधवार को 2.93 लाख क्यूसेक पानी पहुंच गया। इन दोनों स्थानों पर बराज के फाटकों को और ऊपर तक खोल दिया गया है। जल संसाधन विभाग के अनुसार, गंगा नदी कटिहार में खतरे के निशान को पार कर गई है। बागमती सीतामढ़ी में खतरे के निशान से 68 सेंटीमीटर, शिवहर में 80 सेमी और मुजफ्फरपुर में 1.52 मीटर ऊपर है। कोसी खगड़िया में लाल निशान से 46 सेमी, कमला मधुबनी के झंझारपुर में 1.45 मीटर तो जयनगर में 35 सेमी ऊपर पहुंच गई है। ललबकिया पूर्वी चंपारण में 55 सेमी, परमान पूर्णिया में 10 सेमी, घाघरा सारण में 1.90 मीटर ऊपर बह रही है।

fastblitz24
Author: fastblitz24

Spread the love