Fastblitz 24

Search
Close this search box.

Follow Us:

रक्षा फैक्टरियों पर थी दाऊद के गुर्गे की निगाह

रिजवान की चार्जशीट में कानपुर पुलिस ने किया खुलासा

कानपुर। पाकिस्तान में छिपे मोस्ट वांटेड दाऊद इब्राहिम का नेटवर्क कानपुर पर भी निगाह गड़ाए था। कानपुर में पकड़े गए बांग्लादेशी नागरिक रिजवान मोहम्मद को उसके गुर्गे मतीन ने जासूसी के एवज में मोटी रकम का लालच दिया था। मतीन उससे कानपुर की ऑर्डिनेंस फैक्टरियों और यहां से सेना के टैंकों के मूवमेंट के बारे में सूचनाएं चाहता था। इसका खुलासा पुलिस द्वारा पेश की गई चार्जशीट में हुआ है।

चार्जशीट में दर्ज बयान में रिजवान मोहम्मद ने कहा कि बांग्लादेश से पैसा लाने और वहां पैसा पहुंचाने काम दाऊद का गुर्गा बांग्लादेश निवासी मतीन करता है। रिजवान भी बांग्लादेश से आकर कोलकाता में छहरा था। जहां उसे मतीन मिला। उसके कई गुर्गे भारत में हैं। जो अपनी पहचान छुपाकर अलग अलग रह रहे हैं। मतीन भारत में दाऊद का हवाला रैकेट संचालित करता है।

रिजवान ने बयान दिया है कि मतीन ने उससे कानपुर में पांव जमान में मदद की। उसने कहा था कि तुम्हारी ससुराल कानपुर में हैं। तुम दाऊद भाई के लिए कुछ काम करना चाहते हो तो बताओ। काम के बदले तुम्हे मुंहमांगा इनाम मिलेगा और किसी को हवा भी नहीं लगेगी। कानपुर में ऑर्डिनेंस फैक्टरियां हैं। उनके नक्शे, सेना के अधिकारियों के नाम-पते, सेना के डिपो की जानकारी, टैंक मूवमेंट की जानकारी देनी होगी।

fastblitz24
Author: fastblitz24

Spread the love